योगी जी के ‘विकास विज्ञापन’ को लेना पड़ा ‘बंगाल मॉडल’ का सहारा, जमकर हुए ट्रोल

Spread the love

उत्तरप्रदेश में आगामी विधानसभा 2022 चुनाव का समय नज़दीक है। प्रत्येक राजनीतिक पार्टी अपनी पार्टी के परचम लहराने और जनता को लुभाने के लिए पूरी कोशिश कर रही है। यूपी में पक्ष अपनी योजनाओं का बखान कर रहे और विपक्ष के नेता उन योजनाओं की पोल खोलते नज़र आ रहे है। वहीं पिछले कुछ समय से विज्ञापन से लेकर सोशल मीडिया पर यूपी की सत्ताधारी भाजपा पार्टी जनता को अपने विकास कार्यों की एक लंबी सूची बनाकर परोसने में लगी है। कभी अखबार के फ्रंट पेज पर गन्ना किसानों के पूरे भुगतान का दावा कर दिया जाता है तो कभी किसानों की आय को लेकर बड़े वायदों की योजना। इसी क्रम में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का एक विज्ञापन सामने आया। इस विज्ञापन में योगी आदित्यनाथ की बड़ी-सी तस्वीर है और विकास कार्यों के लिए प्रयोग की गई कुछ इमारतें सड़कों आदि के चित्र। लेकिन जनता को अपने मोह में बांधने के लिए ये विज्ञापन योगी जी के लिए अब ट्रोल की वजह बन चुका है।  

विस्तार से जानिए कैसे – 

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस विज्ञापन में छापी गयी तस्वीरों में से एक हिस्से में कोलकाता के फ्लाईओवर की तस्वीर लग रही है। फ्लाईओवर जिस पर नीला-सफेद पेंट का ट्रेडमार्क है। उस पर पीली टैक्सी दौड़ रही हैं। कई सोशल मीडिया यूजर्स ने फ्लाईओवर की पहचान ममता बनर्जी की सरकार द्वारा बनाए गए मध्य कोलकाता में ‘मा फ्लाईओवर’ के रूप में की है। बस इसके बाद क्या था , सोशल मीडिया के एक्टिव यूज़र शुरू हो गए मुख्यमंत्री योगी के विकास मॉडल पर कटाक्ष करने में। कॉमेडियन श्याम लाल रंगीला जो प्रधानमंत्री की एक्टिंग में माहिर है और उनपर कटाक्ष करने में भी , उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडल पर अपनी एक फोटो पोस्ट की और लिखा- उत्तरप्रदेश की यह कौनसी जगह है बताइए?

हंसराज मीणा ट्वीटर यूज़र लिखते है –Which UP city is this?

रिटायर्ड आईएएस अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह लिखते है- ‘योगी जी की असीम कृपा से
गोरखपुर के जंगल कौड़िया विकास खंड में बन रहा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र।’