पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी के नाम पर राजीव गाँधी खेल रत्न पुरुस्कार का नाम बदलकर ध्यान चंद खेल रत्न हुआ,

Spread the love

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जानकारी देते हुऐ बताया देश को गर्वित कर देने वाले पलों के बीच अनेक देशवासियों का ये आग्रह भी सामने आया है कि खेल रत्न पुरस्कार का नाम मेजर ध्यानचंद जी को समर्पित किया जाए. लोगों की भावनाओं को देखते हुए इसका नाम अब मेजर ध्यानचंद खेल रत्न पुरस्कार किया जा रहा है.इस बीच सोशल मीडिया पर लोगो ने प्रधानमंत्री के इस काम की तारीफ की साथ ही कई सवाल भी खड़े किये कुछ ने प्रधानमंत्री जी से ये देशवसियों का ये भी आग्रह किया कि नरेंद्र मोदी स्टेडियम का नाम बदलकर किसी खिलाड़ी के नाम पर रखा जाय आपको बतादे गुजरात के अहमदाबाद मे स्तिथ मोटेरा स्टेडियम का नाम बदलाकर कुछ दिनों पहले प्रधानमंत्री मंत्री ने अपने नाम पर रखा हैं.प्रधानमंत्री मंत्री का ये फैसला उस वक़्त आया हैं जब इंडियन हॉकी टीम ने ओलम्पिक मे बरोन्ज मैडल जीतकर देश को गौरवान्वित किया इसलिए कुछ लोग इसको राजनीती से भी जोड़कर देख रहे हैं लोगो का मानना हैं लोगो का ये भी कहना हैं 2020-2021 मे खेलो इंडियन के बजट मे 230.78 करोड़ रूपये की कटौती को लेकर भी लोग प्रधानमंत्री को घेर रहे हैं.वहीं विपक्षी पार्टी कांग्रेस का इसपर कहना हैं हॉकी के जादूगर खेल के पुरोधा मेजर ध्यानचंद जी के प्रति सम्मान प्रकट करने का कांग्रेस स्वागत करती है मेजर ध्यानचंद का नाम अगर BJP व PM मोदी जी अपने छोटे राजनीतिक उद्देश्यों के लिए ना घसीटते तो अच्छा था पर मेजर ध्यानचंद के नाम पर खेल रत्न पुरस्कार का नाम रखने का हम स्वागत करते है.

 

रिपोर्ट: नूर